June 22, 2021

Get Aarti Mantra

Aarti & Mantra Sangrah of Hindu Gods and Goddesses

Shri Satyanarayan Bhagwan Aarti सत्यनारायणजी की आरती

श्री सत्यनारायणजी की आरती Shri Satyanarayan Bhagwan Aarti का पाठ कहीं भी और कभी भी किया जा सकता है। … किसी भी नए काम को शुरू करने से पहले, परीक्षा या साक्षात्कार से पहले, बीमार होने पर या यात्रा करते समय उनका जाप किया जा सकता है। ये राशी मंत्र वास्तव में मंत्र बीज मंत्र हैं जो किसी भी भय, बीमारी, अवरोध, भ्रम आदि को मिटाने की जन्मजात शक्ति रखते हैं।

सुबह यानी 5 बजे सूर्योदय के समय श्री सत्यनारायणजी की आरती। 6 के बीच कहना बेहतर होगा। श्री सत्यनारायणजी की की आरती स्त्री के लिए बहुत फायदेमंद है। साथ ही हमारे धर्म सूरु के अनुसार, मेधा और कुंभ के लिए इस आरती का जाप करना लाभदायक होता है। श्री सत्यनारायणजी की की आरती का जाप करने से आप अपने क्रोध पर नियंत्रण रख सकते हैं और अपने मन को प्रसन्न रख सकते हैं।

श्री सत्यनारायणजी की आरती – Shri Satyanarayan Bhagwan Aarti

जय लक्ष्मी रमणा
स्वामी श्री लक्ष्मी रमणा
सत्यनारायण स्वामी
सत्यनारायण स्वामी
जन पातक हरणा
ॐ जय लक्ष्मी रमणा

Jai Lakshmi Ramana
Swami Shri Laxmi Ramana
Satyanarayan swamy
Satyanarayan swamy
Jan patak harna
Om Jai Lakshmi Ramana

रतन जड़ित सिंहासन
अदभुत छवि राजे
स्वामी अदभुत छवि राजे
नारद करत नीराजन
नारद करत नीराजन
घंटा वन बाजे
ॐ जय लक्ष्मी रमणा

Rattan jadit sinhasan
Adbhut chavi raje
Swami adbhut chavi raje
Narada Karat Neerajan
Narada Karat Neerajan
hanta van baje
Om Jai Lakshmi Ramana

प्रकट भए कलिकारण
द्विज को दरस दियो
स्वामी द्विज को दरस दियो
बूढ़ा ब्राह्मण बनकर
बूढ़ा ब्राह्मण बनकर
कंचन महल कियो
ॐ जय लक्ष्मी रमणा

Prakat Bhay Kalikaran
Dvij Ko Daras Diyo
Swami Dwij Ko Daras Diyo
Budha Brahmin Bankar
Budha Brahmin Bankar
Kanchan Mahal Kiyo
Om Jai Lakshmi Ramana

दुर्बल भील कुठारी
जिन पर कृपा करी
स्वामी जिन पर कृपा करी
चंद्रचूड़ एक राजा
चंद्रचूड़ एक राजा
तिनकी विपत्ति हरि
ॐ जय लक्ष्मी रमणा

DurbalBhil Kuthari
jin pa rkrupa kari
Swami jin par krupa kari
Chandrachud ek raja
tinki vipati hare
Om Jai Lakshmi Ramana

वैश्य मनोरथ पायो
श्रद्धा तज दीन्ही
स्वामी श्रद्धा तज दीन्ही
सो फल भाग्यो प्रभुजी
सो फल भाग्यो प्रभुजी
फिर अस्तुति किन्ही
ॐ जय लक्ष्मी रमणा

Vaishya manorath paayo
Shraddha taj deenhi
Swami Shraddha Taj Deenhi
so fhal bhagya Prabhuji
so fhal bhagya Prabhuji
fir astuti kinhi
Om Jai Lakshmi Ramana

भाव भक्ति के कारण
छिन-छिन रूप धरयो
स्वामी छिन-छिन रूप धरयो
श्रद्धा धारण किनी
श्रद्धा धारण किनी
तिनके काज सरयो
ॐ जय लक्ष्मी रमणा

Bhav Bhakti ke karan
chin chin rup dharyo
Swami Chhin Chhin roop dharyo
shradha dharan kini
shradha dharan kini
tinke kaaj saryo
Om Jai Lakshmi Ramana

ग्वाल-बाल संग राजा
बन में भक्ति करी
स्वामी बन में भक्ति करी
मनवांछित फल दीन्हो
मनवांछित फल दीन्हो
दीन दयालु हरि
ॐ जय लक्ष्मी रमणा

Gwal Bal sang raja
ban me bhakti kari
swami ban me bhakti kari
manvanct fal dinho
manvanct fal dinho
Deen Dayalu Hari
Om Jai Lakshmi Ramana

चढत प्रसाद सवायो
कदली फल मेवा
स्वामी कदली फल मेवा
धूप-दीप-तुलसी से
धूप-दीप-तुलसी से
राजी सत्यदेवा
ॐ जय लक्ष्मी रमणा

Chadhat Prasad Savayo
kadli fal meva
Swami Kadali fal meva
Dhoop-deep tulsi se
Dhoop-deep tulsi se
Raja Satyadeva
Om Jai Lakshmi Ramana

सत्यनारायणजी की आरती
जो कोई नर गावै
स्वामी जो कोई नर गावै
तन मन सुख संपती
तन मन सुख संपती
मनवांछित फल पावे
ॐ जय लक्ष्मी रमणा

Satyanarayanji ki aarti
jo koi nar gaave
Swami jo koi nar gaave
Tan man sukh sampatti
Tan man sukh sampatti
manvanchit fal paave
Om Jai Lakshmi Ramana

जय लक्ष्मी रमणा
स्वामी श्री लक्ष्मी रमणा
सत्यनारायण स्वामी
सत्यनारायण स्वामी
जन पातक हरणा
ॐ जय लक्ष्मी रमणा
ॐ जय लक्ष्मी रमणा
ॐ जय लक्ष्मी रमणा

Jai Lakshmi Ramana
Swami Shri Laxmi Ramana
Satyanarayan swamy
Satyanarayan swamy
Jan paatak harna
Om Jai Lakshmi Ramana
Om Jai Lakshmi Ramana
Om Jai Lakshmi Ramana

List of Lord Ganesha Mantras -Ganesha Mantra List

Om Jai Lakshmi Mata Aarti | Laxmi Mata Aarti

श्री सत्यनारायणजी की आरती – Shri Satyanarayan Bhagwan Aarti