June 22, 2021

Get Aarti Mantra

Aarti & Mantra Sangrah of Hindu Gods and Goddesses

साई बाबा चालीसा – Sai Baba Chalisa Hindi English

साई बाबा चालीसा Sai Baba Chalisa का पाठ कहीं भी और कभी भी किया जा सकता है। … किसी भी नए काम को शुरू करने से पहले, परीक्षा या साक्षात्कार से पहले, बीमार होने पर या यात्रा करते समय उनका जाप किया जा सकता है। ये चालीसा मंत्र वास्तव में मंत्र बीज मंत्र हैं जो किसी भी भय, बीमारी, अवरोध, भ्रम आदि को मिटाने की जन्मजात शक्ति रखते हैं।

साई बाबा चालीसा Sai Baba Chalisa सुबह यानी 5 बजे सूर्योदय के समय । 6 के बीच कहना बेहतर होगा। साई बाबा चालीसा के लिए बहुत फायदेमंद है। साथ ही हमारे धर्म सूरु के अनुसार, तूल के लिए इस आरती का जप करना लाभदायक होता है। साई बाबा चालीसा Sai Baba Chalisa करने से आप अपने क्रोध पर नियंत्रण रख सकते हैं और अपने मन को प्रसन्न रख सकते हैं।

Sai Baba Chalisa – साई बाबा चालीसा


श्री साँई के चरणों में, अपना शीश नवाऊं मैंकैसे शिरडी साँई आए, सारा हाल सुनाऊ मैं
कौन है माता, पिता कौन है, यह न किसी ने भी जाना।
कहां जन्म साँई ने धारा, प्रश्न पहेली रहा बना
कोई कहे अयोध्या के, ये रामचन्द्र भगवान हैं।
कोई कहता साँई बाबा, पवन-पुत्र हनुमान हैं
कोई कहता मंगल मूर्ति, श्री गजानन हैं साँई।

Sri Sami Ke Caranom Mem, Apana Sisa Nava’um Mainkaise Siradi Sami A’e, Sara Hala Suna’u Maim
Kauna Hai Mata, Pita Kauna Hai, Yaha Na Kisi Ne Bhi Jana.
Kaham Janma Sami Ne Dhara, Prasna Paheli Raha Bana
Ko’i Kahe Ayodhya Ke, Ye Ramacandra Bhagavana Haim.
Ko’i Kahata Sami Baba, Pavana-putra Hanumana Haim
Ko’i Kahata Mangala Murti, Sri Gajanana Haim Sami.

कोई कहता गोकुल-मोहन, देवकी नन्द्न हैं साँई
शंकर समझ भक्त कई तो, बाबा को भजते रहते।
कोई कह अवतार दत्त का, पूजा साँई की करते
कुछ भी मानो उनको तुम, पर साँई हैं सच्चे भगवान।
बड़े दयालु, दीनबन्धु, कितनों को दिया जीवनदान
कई बरस पहले की घटना, तुम्हें सुनाऊंगा मैं बात।

Ko’i Kahata Gokula-mohana, Devaki Nandna Haim Sami
Sankara Samajha Bhakta Ka’i To, Baba Ko Bhajate Rahate.
Ko’i Kaha Avatara Datta Ka, Puja Sami Ki Karate
Kucha Bhi Mano Unako Tuma, Para Sami Haim Sacce Bhagavana.
Bare Dayalu, Dinabandhu, Kitanom Ko Diya Jivanadana
Ka’i Barasa Pahale Ki Ghatana, Tumhem Suna’unga Maim Bata.

किसी भाग्यशाली की शिरडी में, आई थी बारात
आया साथ उसी के था, बालक एक बहुत सुनदर।
आया, आकर वहीं बद गया, पावन शिरडी किया नगर
कई दिनों तक रहा भटकता, भिक्षा मांगी उसने दर-दर।
और दिखाई ऎसी लीला, जग में जो हो गई अमर
जैसे-जैसे उमर बढ़ी, बढ़ती ही वैसे गई शान।

Kisi Bhagyasali Ki Siradi Mem, A’i Thi Barata
Aya Satha Usi Ke Tha, Balaka Eka Bahuta Sunadara.
Aya, Akara Vahim Bada Gaya, Pavana Siradi Kiya Nagara
Ka’i Dinom Taka Raha Bhatakata, Bhiksa Mangi Usane Dara-dara.
Aura Dikha’i Esi Lila, Jaga Mem Jo Ho Ga’i Amara
Jaise-jaise Umara Barhi, Barhati Hi Vaise Ga’i Sana.

घर-घर होने लगा नगर में, साँई बाबा का गुणगान
दिगदिगन्त में लगा गूंजने, फिर तो साँई जी का नाम।
दीन मुखी की रक्षा करना, यही रहा बाबा का काम
बाबा के चरणों जाकर, जो कहता मैं हूं निर्धन।
दया उसी पर होती उनकी, खुल जाते द:ख के बंधन
कभी किसी ने मांगी भिक्षा, दो बाबा मुझ को संतान।

Ghara-ghara Hone Laga Nagara Mem, Sami Baba Ka Gunagana
Digadiganta Mem Laga Gunjane, Phira To Sami Ji Ka Nama.
Dina Mukhi Ki Raksa Karana, Yahi Raha Baba Ka Kama
Baba Ke Caranom Jakara, Jo Kahata Maim Hum Nirdhana.
Daya Usi Para Hoti Unaki, Khula Jate Da:kha Ke Bandhana
Kabhi Kisi Ne Mangi Bhiksa, Do Baba Mujha Ko Santana.

एवं अस्तु तब कहकर साँई, देते थे उसको वरदान
स्वयं दु:खी बाबा हो जाते, दीन-दुखी जन का लख हाल।
अंत:करन भी साँई का, सागर जैसा रहा विशाल
भक्त एक मद्रासी आया, घर का बहुत बड़ा धनवान।
माल खजाना बेहद उसका, केवल नहीं रही संतान
लगा मनाने साँईनाथ को, बाबा मुझ पर दया करो।

Evam Astu Taba Kahakara Sami, Dete The Usako Varadana
Svayam Du:khi Baba Ho Jate, Dina-dukhi Jana Ka Lakha Hala.
Anta:karana Bhi Sami Ka, Sagara Jaisa Raha Visala
Bhakta Eka Madrasi Aya, Ghara Ka Bahuta Bara Dhanavana.
Mala Khajana Behada Usaka, Kevala Nahim Rahi Santana
Laga Manane Saminatha Ko, Baba Mujha Para Daya Karo.

झंझा से झंकृत नैया को, तुम ही मेरी पार करो
कुलदीपक के अभाव में, व्यर्थ है दौलत की माया।
आज भिखारी बनकर बाबा,साई बाबा चालीसा शरण तुम्हारी मैं आया
दे दे मुझको पुत्र दान, मैं ऋणी रहूंगा जीवन भर।
और किसी की आश न मुझको, सिर्फ भरोसा है तुम पर
अनुनय-विनय बहुत की उसने, चरणों में धर के शीश।

Jhanjha Se Jhankrta Naiya Ko, Tuma Hi Meri Para Karo
Kuladipaka Ke Abhava Mem, Vyartha Hai Daulata Ki Maya.
Aja Bhikhari Banakara Baba, Sarana Tumhari Maim Aya
De De Mujhako Putra Dana, Maim Rni Rahunga Jivana Bhara.
Aura Kisi Ki Asa Na Mujhako, Sirpha Bharosa Hai Tuma Para
Anunaya-vinaya Bahuta Ki Usane, Caranom Mem Dhara Ke Sisa.

तब प्रसन्न होकर बाबा ने, दिया भक्त को यह आशीष
अल्ला भला करेगा तेरा, पुत्र जन्म हो तेरे घर।
कृपा रहे तुम पर उसकी, और तेरे उस बालक पर
अब तक नहीं किसी ने पाया, साँई की कृपा का पार।
पुत्र रतन दे मद्रासी को, धन्य किया उसका संसार
तन-मन से जो भजे उसी का, जग में होता है उद्धार।

Taba Prasanna Hokara Baba Ne, Diya Bhakta Ko Yaha Asisa
Alla Bhala Karega Tera, Putra Janma Ho Tere Ghara.
Krpa Rahe Tuma Para Usaki, Aura Tere Usa Balaka Para
Aba Taka Nahim Kisi Ne Paya, Sami Ki Krpa Ka Para.
Putra Ratana De Madrasi Ko, Dhan’ya Kiya Usaka Sansara
Tana-mana Se Jo Bhaje Usi Ka, Jaga Mem Hota Hai Ud’dhara.

सांच को आंच नहीं है कोई, सदा झूठ की होती हार
मैं हूं सदा सहारे उसके, सदा रहूंगा उसका दास।
साँई जैसा प्रभु मिला है, इतनी की कम है क्या आद
मेरा भी दिन था इक ऎसा, साई बाबा चालीसा मिलती नहीं मुझे थी रोटी।
तन पर कपड़ा दूर रहा था, शेष रही नन्ही सी लंगोटी
सरिता सन्मुख होने पर भी, मैं प्यासा का प्यासा था।

Sanca Ko Anca Nahim Hai Ko’i, Sada Jhutha Ki Hoti Hara
Maim Hum Sada Sahare Usake, Sada Rahunga Usaka Dasa.
Sami Jaisa Prabhu Mila Hai, Itani Ki Kama Hai Kya Ada
Mera Bhi Dina Tha Ika Esa, Milati Nahim Mujhe Thi Roti.
Tana Para Kapara Dura Raha Tha, Sesa Rahi Nanhi Si Langoti
Sarita Sanmukha Hone Para Bhi, Maim Pyasa Ka Pyasa Tha.

दुर्दिन मेरा मेरे ऊपर, दावाग्नि बरसाता था
धरती के अतिरिक्त जगत में, मेरा कुछ अवलम्ब न था।
बिना भिखारी में दुनिया में, दर-दर ठोकर खाता था
ऐसे में इक मित्र मिला जो, परम भक्त साँई का था।
जंजालों से मुक्त, मगर इस, जगती में वह मुझसा था
बाबा के दर्शन के खातिर, मिल दोनों ने किया विचार।

Durdina Mera Mere Upara, Davagni Barasata Tha
Dharati Ke Atirikta Jagata Mem, Mera Kucha Avalamba Na Tha.
Bina Bhikhari Mem Duniya Mem, Dara-dara Thokara Khata Tha
Aise Mem Ika Mitra Mila Jo, Parama Bhakta Sami Ka Tha.
Janjalom Se Mukta, Magara Isa, Jagati Mem Vaha Mujhasa Tha
Baba Ke Darsana Ke Khatira, Mila Donom Ne Kiya Vicara.

साँई जैसे दयामूर्ति के दर्शन को हो गए तैयार
पावन शिरडी नगर में जाकर, देखी मतवाली मूर्ति।
धन्य जन्म हो गया कि हमने, दु:ख सारा काफूर हो गया।
संकट सारे मिटे और विपदाओं का अंत हो गया
मान और सम्मान मिला, साई बाबा चालीसा भिक्षा में हमको बाबा से।
प्रतिबिंबित हो उठे जगत में, हम साँई की आभा से
बाबा ने सम्मान दिया है, मान दिया इस जीवन में।

Sami Jaise Dayamurti Ke Darsana Ko Ho Ga’e Taiyara
Pavana Siradi Nagara Mem Jakara, Dekhi Matavali Murti.
Dhan’ya Janma Ho Gaya Ki Hamane, Du:kha Sara Kaphura Ho Gaya.
Sankata Sare Mite Aura Vipada’om Ka Anta Ho Gaya
Mana Aura Sam’mana Mila, Bhiksa Mem Hamako Baba Se.
Pratibimbita Ho Uthe Jagata Mem, Hama Sami Ki Abha Se
Baba Ne Sam’mana Diya Hai, Mana Diya Isa Jivana Mem.

इसका ही सम्बल ले, मैं हंसता जाऊंगा जीवन में
साँई की लीला का मेरे, मन पर ऎसा असर हुआ
”काशीराम” बाबा का भक्त, इस शिरडी में रहता था।
मैं साँई का साँई मेरा, वह दुनिया से कहता था
सींकर स्वयं वस्त्र बेचता, ग्राम नगर बाजारों में।
झंकृत उसकी हृदतंत्री थी, साँई की झनकारों में
स्तब्ध निशा थी, थे सोये, रजनी आंचल में चांद सितारे। साई बाबा चालीसा

Isaka Hi Sambala Le, Maim Hansata Ja’unga Jivana Mem
Sami Ki Lila Ka Mere, Mana Para Esa Asara Hu’a
“kasirama” Baba Ka Bhakta, Isa Siradi Mem Rahata Tha.
Maim Sami Ka Sami Mera, Vaha Duniya Se Kahata Tha
Sinkara Svayam Vastra Becata, Grama Nagara Bajarom Mem.
Jhankrta Usaki Hrdatantri Thi, Sami Ki Jhanakarom Mem
Stabdha Nisa Thi, The Soye, Rajani Ancala Mem Canda Sitare.

नहीं सूझता रहा हाथ, को हाथ तिमिर के मारे
वस्त्र बेचकर लौट रहा था, हाय! हाट से काशी।
विचित्र बड़ा संयोग कि उस दिन, आता था वह एकाकी
घेर राह में खड़े हो गए, उसे कुटिल अन्यायी।
मारो काटो लूटो इसको, ही ध्वनि पड़ी सुनाई
लूट पीटकर उसे वहां से, कुटिल गये चम्पत हो।
आघातों से मर्माहत हो, उसने दी थी संज्ञा खो
बहुत देर तक पड़ा रहा वह, वहीं उसी हालत में।

Nahim Sujhata Raha Hatha, Ko Hatha Timira Ke Mare
Vastra Becakara Lauta Raha Tha, Haya! Hata Se Kasi.
Vicitra Bara Sanyoga Ki Usa Dina, Ata Tha Vaha Ekaki
Ghera Raha Mem Khare Ho Ga’e, Use Kutila An’yayi.
Maro Kato Luto Isako, Hi Dhvani Pari Suna’i
Luta Pitakara Use Vaham Se, Kutila Gaye Campata Ho.
Aghatom Se Marmahata Ho, Usane Di Thi Sanjna Kho
Bahuta Dera Taka Para Raha Vaha, Vahim Usi Halata Mem.

Shri Ganesh Chalisa – श्री गणेश चालीसा

Sai Baba Chalisa In Hindi English