ऋषि मूनियों दौरा दिए गयी 5 मंत्र

मंत्रों की इतनी शक्ति होती है कि भगवान भी भक्त के पास चले आते हैं
ऋषि मूनियों ने सैकड़ों साल तक कठोर तप करके इन मंत्रों की खोज की थी जिसे हमारे पूर्वजों ने संभाल कर रखा है
और इन मंत्रों के फायदे को बताया है लेकिन अब हम इन्हीं मंत्रों से दूर होते जा रहे हैं जिसके चलते घर में कलह, अशांति, गरीबी, विघटन आदि देखने को मिल रहा है
ऐसे घर बहुत कम होंगे जहां पर बीमारी का साया नहीं होगा। धर्म में ऐसे तीन मंत्र दिये हुए हैं जो आपकी जिंदगी को संवार सकते हैं।

Mantrom Ki Itani Sakti Hoti Hai Ki Bhagavana Bhi Bhakta Ke Pasa Cale Ate Haim
Rsi Muniyom Ne Saikarom Sala Taka Kathora Tapa Karake Ina Mantrom Ki Khoja Ki Thi Jise Hamare Purvajom Ne Sambhala Kara Rakha Hai
Aura Ina Mantrom Ke Phayade Ko Bataya Hai Lekina Aba Hama Inhim Mantrom Se Dura Hote Ja Rahe Haim Jisake Calate Ghara Mem Kalaha, Asanti, Garibi, Vighatana Adi Dekhane Ko Mila Raha Hai
Aise Ghara Bahuta Kama Honge Jaham Para Bimari Ka Saya Nahim Hoga. Dharma Mem Aise Tina Mantra Diye Hu’e Haim Jo Apaki Jindagi Ko Sanvara Sakate Haim.

ऋषि मूनियों दौरा दिए गयी ५ मंत्र

1-मंगलम् भगवान विष्णु मंगलम् गरुड़ ध्वज। मंगलम् पुडरीकाक्ष मंगलाए तनो हरि।

सुबह उठ कर स्नान करने के बाद नियमित इस मंत्र का जाप करना चाहिए
मंत्र जाप करने से पहले आंख बंद कर भगवान को याद करें और फिर इसका जाप करें
कुछ दिनों तक लगातार जाप करने से जीवन में परितर्वतन शुरू हो जायेगा।


2-गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णु गुरुदेवो महेश्वर। गुरुसाक्षात परमब्रह्मा तस्मै श्री गुरुवे नम:

मंदिर में इस मंत्र का जाप करने से बहुत से लोग मिल जायेंगे। मंत्र का जाप करना आसान है
बिना गुरु के आशीर्वाद के कुछ नहीं मिलने वाला है
आप किसी प्रभु को अपना गुरु माने और सुबह उठ कर शुद्ध होकर नियमित इस मंत्र का जाप करे

Subaha Utha Kara Snana Karane Ke Bada Niyamita Isa Mantra Ka Japa Karana Cahi’e
Mantra Japa Karane Se Pahale Ankha Banda Kara Bhagavana Ko Yada Karem Aura Phira Isaka Japa Karem
Kucha Dinom Taka Lagatara Japa Karane Se Jivana Mem Paritarvatana Suru Ho Jayega.


3-कराग्रे वसते लक्ष्मी कर मध्ये सरस्वती। कर मूले गोविंदाय प्रभाते कर दर्शनम्

यह मंत्र भी बेहद प्रभावशाली है इस मंत्र का जाप करने समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए
स्नान करने के बाद आराम से अपने बिस्तर पर बैठ जाये। इसके बा दोनों हाथ जोड़ ले
दोनों हथेली को इस तरह खोले जैसे हाथ में किताब रखी है इसके बाद हथेली पर देखते हुए मंत्र का जाप करें
यह मंत्र इतना प्रभावशाली है कि सारे बिगड़े काम बन जाते हैं और घर में कभी पैसों की कमी नहीं होती है

Yaha Mantra Bhi Behada Prabhavasali Hai Isa Mantra Ka Japa Karane Samaya Kucha Batom Ka Dhyana Rakhana Cahi’e
Snana Karane Ke Bada Arama Se Apane Bistara Para Baitha Jaye. Isake Ba Donom Hatha Jora Le
Donom Hatheli Ko Isa Taraha Khole Jaise Hatha Mem Kitaba Rakhi Hai Isake Bada Hatheli Para Dekhate Hu’e Mantra Ka Japa Karem
Yaha Mantra Itana Prabhavasali Hai Ki Sare Bigare Kama Bana Jate Haim Aura Ghara Mem Kabhi Paisom Ki Kami Nahim Hoti Hai


4-मेष राशि का मन्त्र

ॐ ह्रीं श्रीं लक्ष्मी नारायणाय नमः ||

‘Om Hrim Srim Laksmi Narayanaya Namah ||


5-हनुमान दर्शन हेतु मंत्र

हाथ में लड्डू, मुख में पान| आओ आओ बाबा हनुमान|
न आओ तो दुहाई महादेव गौरा -पार्वती की| शब्द साँचा|
पिण्ड काँचा| फुरो मन्त्र इश्वरो वाचा||

Hatha Mem Laddu, Mukha Mem Pana| A’o A’o Baba Hanumana|
Na A’o To Duha’i Mahadeva Gaura -parvati Ki| Sabda Samca|
Pinda Kamca| Phuro Mantra Isvaro Vaca||


विधि :-

साधक इस मंत्र का अनुष्ठान मंगलवार या शनिवार से प्रारम्भ करें
श्री हनुमान विषयक नियम का पालन करते हुए सिन्दूर का चोला, जनेऊ, खड़ाऊँ, लंगोट, पाँच लड्डू एवं ध्वजा चढ़ावे और प्रत्येक मंगलवार को व्रत रखें
व्रत में एवं जप समय लाल वस्त्र धारण करें, लाल आसन पर बैठ लाल चन्दन की माला का उपयोग करें
प्रति शनिवार गुड़ और चने का वितरण करें तथा यह क्रिया तीन माह करते हुए प्रतिदिन दस मालायें जपें और पवित्रता का ध्यान रखें इससे पवन सुत प्रसन्न होकर दुर्शन देंगे
उस समय हनुमान जी से जो चाहे माँग लें.
मंत्रों के प्रयोग से बहुत ही व्यापक है इन साधनों का प्रयोग देवी देवताओं की सिद्धि से लेकर विभिन्न रोगों के निदान के लिए भी किया जाता है. ऋषि मूनियों ने सैकड़ों साल तक कठोर तप करके इन मंत्रों की खोज की थी जिसे हमारे पूर्वजों ने संभाल कर रखा है,

Sadhaka Isa Mantra Ka Anusthana Mangalavara Ya Sanivara Se Prarambha Karem
Sri Hanumana Visayaka Niyama Ka Palana Karate Hu’e Sindura Ka Cola, Jane’u, Khara’um, Langota, Pamca Laddu Evam Dhvaja Carhave Aura Pratyeka Mangalavara Ko Vrata Rakhem
Vrata Mem Evam Japa Samaya Lala Vastra Dharana Karem, Lala Asana Para Baitha Lala Candana Ki Mala Ka Upayoga Karem
Prati Sanivara Gura Aura Cane Ka Vitarana Karem Tatha Yaha Kriya Tina Maha Karate Hu’e Pratidina Dasa Malayem Japem Aura Pavitrata Ka Dhyana Rakhem Isase Pavana Suta Prasanna Hokara Dursana Denge
Usa Samaya Hanumana Ji Se Jo Cahe Mamga Lem.
Mantrom Ke Prayoga Se Bahuta Hi Vyapaka Hai Ina Sadhanom Ka Prayoga Devi Devata’om Ki Sid’dhi Se Lekara Vibhinna Rogom Ke Nidana Ke Li’e Bhi Kiya Jata Hai. Rsi Muniyom Ne Saikarom Sala Taka Kathora Tapa Karake Ina Mantrom Ki Khoja Ki Thi Jise Hamare Purvajom Ne Sambhala Kara Rakha Hai

Om Jai Jagadish Hare Aarti ॐ जय जगदीश हरे

By sandip

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *