June 22, 2021

Get Aarti Mantra

Aarti & Mantra Sangrah of Hindu Gods and Goddesses

Lord Shiva Omkara Aarti ॐ जय शिव ओंकारा

जय शिव ओंकारा आरती Lord Shiva Omkara Aarti का पाठ कहीं भी और कभी भी किया जा सकता है। … किसी भी नए काम को शुरू करने से पहले, परीक्षा या साक्षात्कार से पहले, बीमार होने पर या यात्रा करते समय उनका जाप किया जा सकता है। ये राशी मंत्र वास्तव में मंत्र बीज मंत्र हैं जो किसी भी भय, बीमारी, अवरोध, भ्रम आदि को मिटाने की जन्मजात शक्ति रखते हैं।

सुबह यानी 5 बजे सूर्योदय के समय जय शिव ओंकारा आरती । 6 के बीच कहना बेहतर होगा। जय शिव ओंकारा की आरती के लिए बहुत फायदेमंद है। साथ ही हमारे धर्म सूरु के अनुसार, मेधा और कन्या के लिए इस आरती का जाप करना लाभदायक होता है। जय शिव ओंकारा की आरती का जाप करने से आप अपने क्रोध पर नियंत्रण रख सकते हैं और अपने मन को प्रसन्न रख सकते हैं।

ॐ जय शिव ओंकारा – Lord Shiva Omkara Aarti

ॐ जय शिव ओंकारा, प्रभु हर शिव ओंकारा
ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव
ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव, अर्द्धांगी धारा
ॐ जय शिव ओंकारा

Om jai shiv onkara, prabhu har shiva onkara
Brahma, Vishnu, Sadashiva
Brahma, Vishnu, Sadashiva, Ardhangi Dhara
Om Jai Shiv Onkara

ॐ जय शिव ओंकारा, प्रभु हर शिव ओंकारा
ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव
ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव, अर्द्धांगी धारा
ॐ जय शिव ओंकारा

Om jai shiv onkara, prabhu har shiva onkara
Brahma, Vishnu, Sadashiva
Brahma, Vishnu, Sadashiva, Ardhangi Dhara
Om Jai Shiv Onkara

एकानन चतुरानन पञ्चानन राजे
स्वामी पञ्चानन राजे
हंसासन गरूड़ासन
हंसासन गरूड़ासन
वृषवाहन साजे
ॐ जय शिव ओंकारा

Ekanan Chaturanan Panchanan Raje
Swami Panchanan Raje
Hansasan Garudasan
Hansasan Garudasan
vrushvahan saaje
Om Jai Shiv Onkara

दो भुज चार चतुर्भुज, दसभुज ते सोहे
स्वामी दसभुज ते सोहे
तीनों रूप निरखता
तीनों रूप निरखता
त्रिभुवन मन मोहे
ॐ जय शिव ओंकारा

Do bhuj chaar charurbhuj panchanan raje
Swami Dasbhuj te Sohe
teeno roop nikhrta
teeno roop nikharta
Tribhuvan Man Mohe
Om Jai Shiv Onkara

अक्षमाला वनमाला मुण्डमाला धारी
स्वामी मुण्डमाला धारी
चन्दन मृगमद चंदा
चन्दन मृगमद चंदा
भोले शुभ कारी
ॐ जय शिव ओंकारा

Akshamala Vanmala Mundmala dhari
Swami Mundmala Dhari
Chandan Mrigam Chanda
Chandan Mrigam Chanda
bhole shubh kari
Om Jai Shiv Onkara

श्वेताम्बर, पीताम्बर, बाघाम्बर अंगे
स्वामी बाघाम्बर अंगे
ब्रह्मादिक संतादिक
ब्रह्मादिक संतादिक
भूतादिक संगे
ॐ जय शिव ओंकारा

Shwetambar, Pitambar, Baghambar Ange
Swami Baghambar Ange
Brahmadic Santadik
Brahmadic Santadik
bhutadik sange
ॐ Jai Shiva Omkara

कर मध्ये च’कमण्ड चक्र त्रिशूलधरता
स्वामी चक्र त्रिशूलधरता
जग कर्ता जग हरता
जग कर्ता जग हरता
जगपालन करता
ॐ जय शिव ओंकारा

kar mdhe ch kamand chakra trishuldharta
Swami Chakra trishuldharta
Jag karta jag harata
Jag karta jag harata
jagpalan karta
Om Jai Shiv Onkara

ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव जानत अविवेका
स्वामी जानत अविवेका
प्रनाबाच्क्षर के मध्ये
प्रनाबाच्क्षर के मध्ये
ये तीनों एका
ॐ जय शिव ओंकारा

Brahma, Vishnu, Sadashiv janat aviveka
Swami janat avivika
pranabhagcharkemdhe
pranabhagcharkemdhe
ye teeno eka
ॐ Jai Shiva Omkara

त्रिगुणस्वामी जी की आरति जो कोइ जन गावे
स्वामी जो कोइ जन गावे
कहत शिवानन्द स्वामी
कहत शिवानन्द स्वामी
मनवान्छित फल पावे
ॐ जय शिव ओंकारा

Aarti of Trigunaswamy ji Koi Jana Gave
Swami jo koi jan gaave
Kahat Shivanand Swami
Kahat Shivanand Swami
manvachit fal paave
Om Jai Shiv Onkara

ॐ जय शिव ओंकारा, प्रभु हर शिव ओंकारा
ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव
ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव, अर्द्धांगी धारा
ॐ जय शिव ओंकारा

Om jai shiv onkara, prabhu har shiva onkara
Brahma, Vishnu, Sadashiva
Brahma, Vishnu, Sadashiva, Ardhangi Dhara
Om Jai Shiv Onkara

ॐ जय शिव ओंकारा, प्रभु हर शिव ओंकारा
ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव
ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव, अर्द्धांगी धारा
जय शिव ओंकारा

Om jai shiv onkara, prabhu har shiva onkara
Brahma, Vishnu, Sadashiva
Brahma, Vishnu, Sadashiva, Ardhangi Dhara
Om Jai Shiv Onkara

ॐ जय शिव ओंकारा – Lord Shiva Omkara Aarti

Shri Ganesh Chalisa – श्री गणेश चालीसा